पिक्चर अभी बाकी है ! अगस्त में आतंक मचाएगा आततायी कोरोना, सितंबर में समाप्त होगा सितम ?

0
852

शनि-गुरु-केतु की त्रिपुटी ने मचाया हाहाकार

केतु का धनु से वृश्चिक में प्रवेश करेगा उद्धार

कोलकाता के ज्योतिषाचार्य की भविष्यवाणी

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद (25 मई, 2020)। भारत सहित समग्र विश्व को कोरोना वायरस से फैली महामारी कोविड 19 से शीघ्र मुक्ति मिलने की संभावना नहीं है। वैज्ञानिक लगे हुए हैं कोरोना रोधी टीका खोजने में। कई देशों व उनके वैज्ञानिक ये दावा भी कर चुके हैं कि उन्होंने कोरोना रोधी वैक्सीन ढूँढ ली है, परंतु वास्तविकता यह है कि यदि कोई वैक्सीन खोजी भी जा चुकी है, तो उसे परीक्षण से लेकर आम आदमी तक पहुँचने में काफी समय लग सकता है।

कोरोना संकट के कारण पूरी दुनिया जहाँ एक ओर दर्द एवं मृत्यु से सिहर उठी है, वहीं दूसरी ओर कोविड 19 संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए भारत सहित समूचे विश्व में अधिकांश देशों ने लॉकडाउन (LOCKDOWN) जैसे मार्ग अपनाए हैं। कोरोना वायरस न केवल संक्रमितों को परेशान कर रहा है, वरन् लॉकडाउन के कारण आम आदमी से लेकर ख़ास आदमी तक को आर्थिक रूप से बदहाल कर रहा है।

इन परिस्थितियों में सबके मन में एक ही प्रश्न है कि आख़िर इस कोरोना से कब मिलेगा छुटकारा ? इस प्रश्न का उत्तर विज्ञान के पास तो नहीं है, परंतु भारतीय ज्योतिष विद्या अवश्य ही उत्तर देने का प्रयास कर रही है। कई ज्योतिषियों ने कोरोना के संक्रमण से लेकर समापन तक को लेकर भाँति-भाँति की भविष्यवाणियाँ की हैं।

क्या कहती है डॉ. आनंदप्रकाश जैन शास्त्री की भविष्यवाणी ?

ऐसे ही एक ज्योतिषाचार्य हैं डॉ. आनंदप्रकाश जैन शास्त्री ‘प्रतिष्ठाचार्य’, जिनका ज्योतिषीय निष्कर्ष जहाँ एक ओर लोगों के धैर्य की परीक्षा लेने वाला है, वहीं दूसरी ओर लोगों को राहत भी प्रदान करने वाला है। यदि इनकी भविष्यवाणी को सही मान लें, तो स्पष्ट है कि कोरोना ने अभी केवल ट्रेलर दिखाया है, पिक्चर अभी बाकी है, जो अगस्त में देखने को मिल सकती है।

यद्यपि भव्य भारत न्यूज़ (BBN) का लक्ष्य अपने पाठकों में किसी भी प्रकार की भ्रांति या भय पैदा करना नहीं है। ज्योतिष विद्या या विज्ञान कुछ भी कहें, परंतु कोरोना को लेकर एक बात स्पष्ट है कि यह वायरस स्वयं चल कर आपके पास नहीं आता, जब तक कि आप इसे आमंत्रित न करें। इसीलिए बीबीएन इस ज्योतिषीय भविष्यवाणी के साथ-साथ आपको तमाम नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित रहने की भी सलाह दे रहा है।

बीबीएन ज्योतिष विद्या में एमए तथा पीएचडी कर चुके कोलकाता निवासी डॉ. जैन की भविष्यवाणी को इसलिए प्रकाशित कर रहा है, ताकि कोरोना को लेकर किसी भी क्षेत्र से आने वाली कोई भी अच्छी-बुरी सूचना से पाठकों को अवगत कराया जा सके। डॉ. आनंदप्रकाश जैन शास्त्री ने कोरोना को लेकर जो ज्योतिषीय अध्ययन किया है, उसके अनुसार कोरोना वायरस से फैली महामारी कोविड 19 अगस्त माह में आततायी की भाँति भयावह आतंक फैलाएगी, तो 30 सितंबर, 2020 से पहले कोरोना से मुक्ति भी मिल जाने की संभावना है।

क्यों आई कोविड 19 महामारी, कब मिलेगी मुक्ति ?

ओजस्वी एवं प्रखर वक्ता, विद्याभूषण, साहित्याचार्य, वास्तुविद् तथा ज्योतिषविद् जैसी उपाधियों से अलंकृत डॉ. आनंदप्रकाश जैन शास्त्री ने कोरोना पर जो ज्योतिषीय गणना की है, उसके अनुसार कोविड 19 के संक्रमण का कारण शनि-गुरु-केतु की त्रिपुटी है। डॉ. जैन के अनुसार 29 अक्टूबर, 2019 को चीन में कोरोना का जन्म हुआ। इसका कारण है 29 अक्टूबर, 2019 के दिन शनि-गुरु-केतु ग्रहों का एक साथ धनु राशि में रहना।

डॉ. जैन के अनुसार कोरोना वायरस यानी कोविड 19 जुलाई में नए-नए रूपों में ज़ुल्म ढाएगा और अगस्त में कोरोना के आतंक की पराकाष्ठा होगी। अगस्त में आततायी कोरोना के भीषण आतंक के चलते धरती पर शवों के ढेर लग जाएँगे। यद्यपि डॉ. जैन की ज्योतिषीय गणना में यह राहत वाली बात भी है कि सितंबर में कोरोना का सितम समाप्त हो जाएगा। जब केतु धनु राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा, तब यानी 3 सितंबर से 29 सितंबर तक कोई न कोई कोरोना रोधी वैक्सीन खोज ली जाएगी। डॉ. जैन की भविष्यवाणी यदि सटीक मान लें, तो स्पष्ट है कि दुनिया को 30 सितंबर, 2020 से पहले कोरोना से मुक्ति मिल जाएगी।

डॉ. आनंदप्रकाश जैन शास्त्री की संपूर्ण भविष्यवाणी निम्नानुसार है :