BOLLYWOOD का बैरी नंबर 1 है CANCER : मीना से ऋषि तक, हारे ‘कई’ और जीते ‘कुछ’ ही !

0
690

रिपोर्ट : कन्हैया कोष्टी

अहमदाबाद (30/04/2020)। पूरी दुनिया में भले ही इस समय कोरोना (CORONA) ने कोहराम मचा रखा हो और धरती पर शवों के ढेर लगा रहा हो, परंतु इसके पश्चात् भी कैंसर आख़िर कैंसर है। कोरोना जैसे संक्रमण की भयावह विकरालता कम नहीं हो जाती और भारत में 24 घण्टों में दो महान अभिनेताओं के निधन से फिर एक बार कैंसर (CANCER) ने यह सिद्ध कर दिया है कि वह एक भयानक रोग है। कोरोना के बीच लोग कैंसर सहित सभी बीमारियों को जैसे भूल चुके थे, परंतु बुधवार को इरफान खान (IRRFAN KHAN) तथा गुरुवार को (RISHI KAPOOR) के निधन ने भारत के लोगों को फिर एक बार कैंसर की भयावहता का भान करा दिया है।

यह भी पढ़ें : क्या है ‘35 का दुर्लभ दुर्ग’, जिसे नहीं तोड़ सके 53 के इरफान और चली गई जान..?

हिन्दी फिल्म जगत (BOLLYWOOD) के महान अभिनेता ऋषि कपूर का आज 67 वर्ष की आयु में कैंसर के कारण निधन हो गया, तो 24 घण्टे पहले ही इरफान खान ने न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर (Neuroendocrine Tumor) यानी NET नामक कैंसर से युद्ध हारते हुए दम तोड़ दिया था। 24 घण्टों में दो-दो अभिनेताओं के निधन से बॉलीवुड गहरे आघात व शोक में है, परंतु बॉलीवुड को यह कैंसर पिछले 50 वर्षों से परेशान कर रहा है। इन पाँच दशकों में बीसियों बॉलीवुड कलाकारों पर कैंसर ने आक्रमण किया, परंतु दुर्भाग्यवश इस कैंसर के आगे जीतने वालों की संख्या कुछ ही है, जबकि हारने वालों में मीना कुमारी तथा नरगिस दत्त से लेकर इरफान खान तथा ऋषि कपूर शामिल हैं।

आइए आपको बताते हैं बॉलीवुड पर कैंसर के कहर की कहानी :

मीना कुमारी : प्रसिद्ध अभिनेत्री मीना कुमारी ने निजी जीवन के ग़मों का हल शराब में ढूँढा। अधिक शराब पीने के कारण मीना कुमारी को यकृत कैंसर (LEVER CANCER) हुआ और 31 मार्च, 1972 को मात्र 38 वर्ष की आयु में मीना कुमारी की मौत हो गई।

नरगिस दत्त : ‘मदर इंडिया’ फैम नरगिस दत्त भी पैंक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित थीं। पति सुनील दत्त ने नरगिस का इलाज अमेरिका में भी कराया, परंतु 2 मार्च, 1981 को नरगिस कैंसर के विरुद्ध युद्ध हार गईं व मुंबई के ब्रिच कैंडी अस्पताल में उनका निधन हो गया।

फिरोज़ खान : बॉलीवुड के वेटरन एक्टर फिरोज़ खान भी कैंसर से हार गए थे और 27 अप्रैल, 2009 को बेंगलुरू में उनका निधन हो गया था।

राजेश खन्ना : बॉलीवुड के प्रथम सुपर स्टार राजेश खन्ना का 18 जुलाई, 2012 को निधन हो गया। उनकी मौत के बाद उनकी पूर्व सहयोगी मुमताज़ ने ख़ुलासा किया कि राजेश खन्ना कैंसर से पीड़ित चल रहे थे।

विनोद खन्ना : विख्यात बॉलीवुड अभिनेता व सांसद विनोद खन्ना को ब्लैंडर कैंसर था, जिसके कारण 27 अप्रैल, 2017 को उनकी मौत हो गई।

आदेश श्रीवास्तव : विख्यात संगीत आदेश श्रीवास्तव की 5 सितंबर, 2015 को निधन हो गया, जबकि एक दिन पहले ही वे 51 साल के आयु हुए थे।

सिम्पल कापडिया : डिम्पल कापडिया की बड़ी बहन सिम्पल कापडिया ने कैंसर से 3 साल तक संघर्ष करने केबाद 10 नवंबर, 2009 को अंधेरी स्थित अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

अशरफ-उल-हक़ : असम के गोलपाड़ा निवासी अभिनेता अशरफ-उल-हक़ ने 30 से अधिक हिन्दी फिल्मों में काम किया था, परंतु बोन मैरॉ कैंसर ने 17 फरवरी, 2015 को उनकी जान ले ली।

सुजाता कुमार : ‘इंग्लिश विंग्लिश’ में श्रीदेवी की बहन का रोल करने वाली सुजाता कुमार का मेटास्टैटिक कैंसर से 19 अगस्त, 2018 को 53 साल की आयु में निधन हो गया।

कुछ सौभाग्यशाली ही जीत सके कैंसर से युद्ध

कैंसर एक भयानक रोग है और इससे पार पाना बड़ा ही मुश्क़िल होता है। यद्यपि बॉलीवुड में कुछ सौभाग्यशाली सितारे ऐसे भी हैं, जिन्होंने कैंसर पर विजय पाई है। इनमें सबसे ऊपर नाम आता है मनीषा कोईराला का। इसके अतिरिक्त सोनाली बेन्द्रे, आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप तथा अनुराग बासु शामिल हैं। इससे पूर्व मुमताज़ भी इस कैंसर को मात दे चुकी हैं। राकेश रोशन व लीज़ा रे ऐसे कलाकार हैं, जिनका कैंसर से युद्ध अब भी जारी है।